गन्दी फिल्म देखने वाले होजाए सावधान, आज से लागू हुए ये 3 नए नियम जिन्हे तोड़ने पर हो सकती है जेल ।

आज के समय में इन्टरनेट पर उपलब्ध एडल्ट कंटेंट को लेकर हमारे देश में लम्बे समय से बहस छिड़ी हुई है. कई बार इसका केस सुप्रीम कोर्ट में भी जा चूका है और एडल्ट पर पूर्ण प्रतिबन्ध लगाने के मांग लम्बे समय से हो रही है. हमारे देश में जिओ के आने के बाद से इन्टरनेट पर पोर्न देखने वालों की संख्या भी बहुत ज्यादा बढ़ गई है. अधिक डाटा मिलने से लोग अधिक समय ऐसी वेबसाइट पर बिताने लगे है.

इसी के प्रभाव को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने हाल के दिनों में ही पोरN को लेकर कुछ नए कानून लागू किए हैं।

Source

जिसके बारे में आपको भी जानने की सख्त जरूरत है। अगर आप एडल्ट को लेकर जारी किए गए बिना नियमों के बारे में नहीं जानते हैं तो यह आपके लिए मुसीबत का एक कारण बन सकता है।

Source

बता दें कि अगर कोई व्यक्ति एडल्ट वीडियोज या फिर चाइल्ड पॉnoर्ग्रफी को सोशल मीडिया पर लोगों के बीच साझा करते हुए पकड़ा जाता है तो ऐसे में साइबर क्राइम एक्ट के तहत उसके ऊपर कार्रवाई की जा सकती है।

सरकार इसके लिए नए वेबसाइट भी लांच कर दी है जहाँ ऐसी किसी भी व्यक्ति की शिकायत की जा सकती है.

Source

हाई कोर्ट के आदेश के बाद तकरीबन आठ सौ से ज्यादा की संख्या में मौजूद एडल्ट साइट को हमेशा के लिए बंद कर दिया गया है। एडल्ट साइट को बंद कर दिए जाने के पीछे की वजह समाज में फैल रहे अश्लीलता को बताया जा रहा है।

इसका एक मकसद महिलाओं के खिलाफ बढ़ रहे अपराध भी है.

Source

दरअसल इस वेबसाईट पर उपलब्ध कंटेंट युवाओं को ऐसे अपराध करने के लिए प्रोत्साहित भी करता है इसलिए हाई कोर्ट चाहता है की सभी पोर्न साइट्स को पहचान कर पूर्ण प्रतिबंधित कर दिया जाये. पॉर्न साइट के ऊपर बैन लग जाने की वजह से आने वाले वक्त में लड़कियों के खिलाफ होने वाले मामलों में कमी आने की संभावना है।